Spread the love

Budget 2022 में क्रिप्टोकरेंसी पर TDS/TCS लागू करने का हो सकता है

टैक्स एक्सपर्ट्स का कहना है कि क्रिप्टोकरेंसी बेचने से होने वाली कमाई पर लॉटरी, पजल, गेम शो से होने वाली कमाई की तरह 30% का टैक्स लगाना चाहिए.

इस बजट (Budget 2022) में सरकार Cryptocurrencies की खरीद-बिक्री पर टैक्स डिडक्शन ऐट सोर्स यानी TDS और टैक्स कलेक्शन एट सोर्स यानी TCS लागू करने का फैसला ले सकती है. हालांकि यह एक लिमिट के बाद लागू होगी. यह बात Nangia Andersen LLP टैक्स के अरविंद श्रीवत्सन ने कही है. उन्होंने कहा कि Cryptocurrencies बेचने पर होने वाली कमाई पर लॉटरी, पजल, गेम शो से होने वाली कमाई की तरह 30% टैक्स लगाना चाहिए. Cryptocurrencies इन्वेस्टर्स की संख्या की बात करें तो भारत दुनिया में नंबर वन है. 10 करोड़ से ज्यादा लोगों ने Crypto निवेश किया है. माना जा रहा है कि 2030 तक Cryptocurrencies इन्वेस्टमेंट बढ़कर 241 मिलियन डॉलर हो जाएगा.

सरकार Cryptocurrencies को रेग्युलेट करने के लिए winter session में ही क्रिप्टोकरेंसी बिल 2021 को पेश करने वाली थी. हालांकि, कृषि कानून के कारण मामला गरमाया रहा. अब माना जा रहा है कि बजट सेशन में इस कानून को पेश किया जा सकता है. श्रीवत्सन ने कहा कि ऐसे में सरकार या तो कानून लेकर आएगी, या फिर Cryptocurrencies पर बैन की जगह हाई टैक्स रेट को लागू कर सकती है.


तेजी से फैल रहा है क्रिप्टो का बाजार

जैसा कि हम जानते हैं, Cryptocurrency का बाजार भारत में बहुत तेजी से फैल रहा है. ऐसे में सरकार के लिए इसे रेग्युलेट करना और टैक्स के दायरे में लाना बहुत जरूरी है. यही वजह है कि इस बजट में TDS/TCS को लागू करने की घोषणा संभव है. अगर कोई Cryptocurrency खरीदता है या फिर बेचता है तो उसे Financial Transaction Statement में दिखाना जरूरी होगा.

31 जनवरी से बजट सेशन

बजट सेशन की शुरुआत 31 जनवरी से हो रही है. माना जा रहा है कि Cryptocurrency रेग्युलेशन बिल को इस बार पेश किया जाएगा. सरकार के लिए ऐसा करना इसलिए जरूरी है कि क्योंकि Cryptocurrency क्राइम में बहुत ज्यादा उछाल आ रहा है. निवेशकों को बरगला कर लूटा जा रहा है. इसके अलावा बजट में टैक्स संबंधी अहम घोषणाएं भी संभव है.

क्रिप्टो ETF लॉन्च करने की तैयारी

इस बीच टॉरस क्‍लिंग ब्‍लॉकचेन (TKB) IFSC ने देश का पहला Crypto एक्‍सचेंज ट्रेडेड फंड यानी Crypto ETF लॉन्‍च करने का ऐलान कर दिया है. कंपनी का दावा है कि, यह ईटीएफ मौजूदा वित्‍त वर्ष के अंत तक यानी मार्च 2022 तक आ सकता है. हालांकि, पहले दो और कंपनियों की ऐसी ही योजना ठंडे बस्‍ते में जा चुकी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *